Sunday, May 26, 2024
More

    मिठाई की दुकान कैसे खोल सकते हैं जानिए – Sweet Shop Business Plan

    मिठाई का बिज़नेस करना या मिठाई की दुकान (Sweets Shop business) खोलना ज्यादा मुश्किल काम तो नही है लेकिन इतना आसान भी नही है। ऐसा इसलिए क्योंकि यह बिज़नेस लोगों के खानपान से जुड़ा हुआ है।

    दूसरी महत्वपूर्ण बात यह केवल खानपान से ही नही बल्कि लोगों के लिए स्पेशल दिन या त्योहारों से भी जुड़ा हुआ होता है क्योंकि हम भारतीय हर महत्वपूर्ण अवसर या फंक्शन पर मिठाई खरीदना बहुत पसंद करते हैं।

    ऐसे में यदि आप भी Mithai ka business करने का सोच रहे हैं लेकिन आपके मन में यह शंका है कि मिठाई का बिज़नेस कैसे करें तो आज हम आपकी हर शंका का समाधान चुटकियों में कर देंगे। आपको इस लेख के माध्यम से मिठाई का बिज़नेस कैसे करना चाहिए और उसके लिए किन-किन बातों को ध्यान में रखने की आवश्यकता है, इत्यादि सभी के बारे में संपूर्ण जानकारी मिलेगी। तो आइए जानते हैं मिठाई की दुकान कैसे खोलें।

     

    मिठाई की दुकान कैसे खोलें | Sweet Shop Business Kaise Start Kare

    हम आपको क्रमानुसार एक-एक चीज़ की जानकारी देंगे ताकि आपको अपनी मिठाई की दुकान खोलने में किसी भी तरह की समस्या का सामना ना करना पड़े।

     

    1. अपना बजट देखें

    किसी भी बिज़नेस को शुरू करने से पहले यह जरुरी है कि आप उसमे कितना पैसा निवेश करने जा रहे हैं। एक सही व सामान्य मिठाई की दुकान खोलने के लिए लगभग 1 लाख तक का निवेश करना पड़ता है क्योंकि इसमें आपको कई तरह के उपकरण, सामान इत्यादि खरीदना पड़ता है और साथ ही हलवाई को नियुक्त करना होता है।

    इसलिए आप कितना निवेश कर सकते हैं, इसके बारे में अपना मन पक्का कीजिए। कम से कम एक लाख तो हाथ में लेकर चलिए और इसके अलावा आप जितना लगा सकते हैं उतना लगाइए।

     

    2. मिठाई की दुकान के लिए एक सही जगह चुने

    मिठाई की दुकान चलाने के लिए इसके बाद जो चीज़ सबसे महत्वपूर्ण है वह है इसकी जगह का चुनाव। यदि आप अपनी मिठाई की दुकान मोहल्ले की किसी गली में खोल लेंगे तो इसकी बहुत संभावना है कि आपकी मिठाई अच्छी होते हुए भी बिज़नेस ना चले क्योंकि लोगों को आपकी दुकान के बारे में पता ही नही चलेगा।

    इसलिए आप अपनी मिठाई की दुकान ऐसी जगह खोलिए जहाँ लोगों का आना जाना लगा रहता हो या जो जगह ज्यादा भीड़ वाली हो। ताकि आसानी से लोगों की नज़र आपकी मिठाई की दुकान पर पड़ सके।

     

    3. जगह हो साफ सुथरी

    अब आप ही सोचिये, क्या आप किसी ऐसी दुकान से मिठाई खरीदना या कोई और खाने की चीज़ खरीदना पसंद करेंगे जहाँ गंदगी हो या अच्छे से साफ-सफाई ना की गयी हो। इसलिए आपने जिस भी जगह का चुनाव किया है उसकी अच्छे से रिपेयरिंग करवाइए, दुकान पर अच्छा सा दिखने वाला रंग-रोगन करवाइए और फर्श साफ करवाइए

    पैसे काटने के लिए एक अच्छा सा काउंटर रखवाएं और जहाँ मिठाई रखी जाएगी वो जगह सबसे ज्यादा साफ और सुंदर हो। यह देखकर आपका आधा काम पहले ही हो जाएगा।

     

    4. मिठाइयों का चुनाव करें

    mithai ki shop

    अब बात करते हैं मिठाई की जिसके लिए आप अपनी दुकान खोलने जा रहे हैं। अब भारत में तो सैकड़ों तरह की मिठाइयाँ मिलती हैं लेकिन यह हर राज्य, इलाके और जगह के हिसाब से अलग-अलग हो सकती है। किसी इलाके में कोई मिठाई ज्यादा चलती है तो किसी इलाके में कोई दूसरी।

    ऐसे में आपका यह रिसर्च करना बहुत आवश्यक है कि आप जिस जगह पर मिठाई की दुकान खोल रहे हैं वहां के लोग किस तरह की मिठाई खाना ज्यादा पसंद करते है। यदि आप ऐसी मिठाइयों का चुनाव करेंगे जो आपके आसपास के इलाकों में ज्यादा बिकती हैं तो अवश्य ही आपकी भी मिठाइयाँ बिकेंगी।

     

    5. मिठाई की दुकान के लिए आवश्यक सामान खरीदें

    अब जब आपने मिठाइयों का चुनाव कर लिया है तो बात आती है उनके लिए सभी उपकरण व सामान खरीदने की। सबसे पहले तो मिठाई बनाने के लिए आवश्यक चूल्हा, गैस सिलिंडर, बड़ी-बड़ी कढ़ाईयां, बर्तन इत्यादि खरीदिये। इसके अलावा उस मिठाई को बनाने के लिए जो अन्य उपकरण होते है उन्हें खरीदिये।

    साथ ही अन्य आवश्यक सामग्री जैसे कि दूध, मक्खन, मेवा, खोया, चीनी, पानी इत्यादि की व्यवस्था भी करके रखिए। इसके अलावा इन्हें ख़राब होने से रोका जा सके, इसकी भी व्यवस्था पहले से ही करके रखिए।

     

    6. हलवाई की नियुक्ति

    अब बात करते है हलवाई की। आप खुद तो मिठाई बनायेंगे नही और इसके लिए रखने पड़ेंगे हलवाई। अब यह आप पर निर्भर करता है कि आप अपनी दुकान के हिसाब से कितने हलवाई रखना चाहते हैं। यदि आप बड़े पैमाने पर काम करना चाहते हैं तो आप 3 से 5 हलवाई रख सकते हैं और यदि आपकी दुकान छोटी है तो आप शुरूआती तौर पर 1 से 2 हलवाई रखकर भी काम चला सकते हैं।

    हलवाई ऐसा चुनिए, जो मिठाई को ना केवल अच्छे से बनाए बल्कि उसमे सफाई भी रखे। हलवाई के हाथ का ही जादू होगा जो ज्यादा से ज्यादा ग्राहकों को आपकी दुकान पर खींचेगा। इसलिए हलवाई के चुनाव में पूरी सावधानी बरते और अपनी दुकान के लिए सबसे अच्छे हलवाई का ही चुनाव करे।

     

    7. मिठाई की दुकान के लिए लाइसेंस

    अब खाने की दुकान चाहे छोटी हो या बड़ी, चूँकि यह लोगों के खानपान से जुड़ी हुई है तो इसका रजिस्ट्रेशन करवाना अति-आवश्यक हो जाता है अन्यथा यह बाद में आपके लिए दुविधा का कारण बन सकता है। इसके लिए आपको सरकारी मान्यता लेनी होगी और खाद्य सामग्री का लाइसेंस लेना होगा।

    इसके लिए आपको FSSAI से संपर्क करके फ़ूड लाइसेंस के लिए आवेदन करना होगा। आप चाहें तो अपने यहाँ के नगर पालिका या नगर निगम में भी आवेदन कर सकते हैं। इसके बाद खाद्य अधिकारी आपके यहाँ आकर आपके माल की गुणवत्ता इत्यादि की जाँच करेंगे और आपकी दुकान को लाइसेंस दे दिया जाएगा।

    यदि आप बड़े पैमाने पर दुकान खोल रहे हैं तो इसके लिए आपको जीएसटी नंबर भी लेना होगा। वैसे तो आजकल बिज़नेस चाहे छोटा हो या बड़ा, हर किसी के लिए जीएसटी नंबर लेना एक तरह से अनिवार्य ही होता है। इसलिए बेहतर यही रहेगा कि आप पहले से ही अपना जीएसटी नंबर ले लें।

     

    8. मिठाई के दामों की सूची

    आपने अपनी दुकान पर जितनी भी मिठाई रखने का सोचा हो, इन सभी की सूची काउंटर पर लगाएं। ऐसा करके आपका ही काम आसान होगा क्योंकि ग्राहक आपसे बार-बार किसी मिठाई का दाम नही पूछेंगे। साथ ही सभी लोगों को यह आश्वासन भी रहेगा कि हर किसी के लिए एक ही दाम है। ऐसे में मिठाई के दामों की सूची लगाना सबसे बेहतर होता है।

     

    9. डिस्प्ले में मिठाई लगाएं

    मिठाई की दुकान

    अब जब मिठाई की दुकान है तो वहां की मिठाइयाँ तभी बिकती है जब यह लोगों को दिखें। जब कोई ग्राहक मिठाई की दुकान पर आता है तब उनमे से अधिकांश लोग बिना कोई मिठाई सोचे ही आते हैं और वही आकर देखते हैं कि कौन-सी मिठाई ली जाए।

    इसलिए आप डिस्प्ले काँच का लगवाएं और उसमे सभी मिठाई को क्रमानुसार अच्छे से इस प्रकार सजाएँ कि वह दूर से ही देखने में ग्राहकों को अपनी ओर खींचें।

     

    10. पैकिंग की सुविधा

    इसके लिए आपको अपनी दुकान के नाम से पैकेट या डिब्बे छपवाने चाहिए ताकि जहाँ भी आपकी मिठाई जाए वहां-वहां आपकी दुकान का नाम भी पहुंचे। इसके लिए कुछ ज्यादा करने की आवश्यकता नही है बल्कि एक डिज़ाइनर से अच्छा सा डिब्बे का डिजाईन बनवाना है जिसमे आपकी दुकान का नाम, पता, मोबाइल नंबर इत्यादि मूलभूत जानकारी लिखी हो।

    आपके मिठाई की पैकिंग भी लोगों को बहुत हद्द तक आपकी दुकान पर आकर्षित कर सकती है। इसलिए पैकिंग को हमेशा शानदार और बढ़िया रखें ताकि यह किसी को दी भी जाए तो देखने में अच्छी लगे।

    तो यह थे कुछ स्टेप्स, जिनका ध्यान आपको मिठाई की दुकान खोलने के लिए रखना होगा।

     

    मिठाई के साथ रखें कुछ और भी चीज़ें | Sweet Shop Business Plan in Hindi

    Mithai shop other items

    आप चाहते हैं कि आपकी मिठाई की दुकान पर ज्यादा से ज्यादा लोग आएं तो आप सामान्य तौर पर कुछ स्नैक आइटम भी रख सकते हैं जैसे कि समोसा, पेटीज, पकोड़े, कचौड़ी इत्यादि। आप चाहे तो इन्हें अपनी दुकान पर ही बनवा सकते हैं या फिर किसी अन्य से खरीद सकते हैं। अपनी ही दुकान पर बनवायेंगे तो ज्यादा बेहतर रहेगा।

    यह ऐसी चीज़े है जिन्हें लोग चलते-फिरते खाना पसंद कर लेते हैं या किसी भी छोटे से छोटे फंक्शन पर घर लाकर खाना पसंद करते हैं। ऐसे में लोग आपकी दुकान से यह सामान्य सामान खरीदने आएंगे तो अवश्य ही उनकी नज़र मिठाई पर भी पड़ेगी और एक ना एक दिन वे आपकी दुकान से मिठाई खरीदने भी आने लगेंगे।

     

    मिठाई की दुकान का विज्ञापन | Mithai Ki Dukan Ki Advertising

    अब बात करते हैं मार्केटिंग की। अब जब आपने एक अच्छी जगह पर दुकान खोल ली हैं, मिठाई बनाने के लिए हलवाई भी रख लिया है, जरुरी लाइसेंस भी रख लिया है लेकिन सबसे जरुरी बात अपनी दुकान पर ग्राहकों को कैसे आकर्षित किया जाये, यह होती है।

    अब जो लोग वहां से कभी-कभार गुजरते हैं या जो राहगीर है उन्होंने आपकी दुकान से कभी कभार थोड़ी बहुत मिठाई ले ली लेकिन जो वही रहते हैं या जिनके घर या दुकान वही आसपास हैं, वे भला जिनसे आजतक मिठाई खरीदते आये है, उन्हें छोड़कर आपकी दुकान से मिठाई क्यों खरीदें?

    इसके लिए आपको मार्केटिंग स्ट्रेटेजी अपनानी होगी और शुरूआती तौर पर दूसरों से अच्छा माल और वो भी कम दाम में देना होगा। साथ ही जगह-जगह अपनी दुकान के पोस्टर, बैनर, होर्डिंग्स छपवा कर लगवाने होंगे ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग आपकी दुकान के बारे में जान सके।

    साथ ही कुछ लोगों के साथ बातचीत करनी होगी ताकि वे अपने किसी फंक्शन या पार्टी में आपकी दुकान से मिठाई खरीद कर देखें। इस तरह धीरे-धीरे आपकी दुकान का प्रचार होगा और काम बढ़ने लगेगा। इस बात का ध्यान रखिए कि शुरूआती तौर पर किसी बिज़नेस को जमाने में कुछ समय लगता ही है और इसके लिए मेहनत भी ज्यादा करनी पड़ती है।

     

    मिठाई की दुकान खोलने के फायदे | Benefits of Opening Sweets Shop Business

    इसमें सबसे बड़ा फायदा यही है कि यदि आपकी मिठाई का स्वाद लोगों को पसंद आ गया तो वे इसकी बड़ाई ओरो से भी करेंगे। साथ ही मिठाई है ही एक ऐसी चीज़ जो एक घर से दूसरे घर में जाती है। ऐसे में आपकी मिठाई का स्वाद ही आपके बिज़नेस में चार चाँद लगा देगा और देखते ही देखते आपका बिज़नेस दिन रात तरक्की करने लगेगा। फिर एक बार आपके पास मिठाई के आर्डर आने शुरू हो गए तो आपकी प्रगति को कोई भी नही रोक पाएगा।

    दूसरा लाभ यह है कि अपने भारत देश में हर महीने कोई ना कोई त्यौहार आता रहता है और कोई त्यौहार ना भी हो तो भी हमारे यहाँ हर शुभ अवसर पर मिठाई के आदान-प्रदान करने की परंपरा है या यूँ कहे कि मुहं मीठा करवाने का रिवाज है। ऐसे में त्योहारों आदि के अवसर पर आपकी मिठाई का बिज़नेस बहुत ही तेज गति से दौड़ेगा।

     

    मिठाई की दुकान खोलने के नुकसान | Demerits of Opening Sweets Shop Business

    भगवान ना करे लेकिन यदि किसी कारणवश आपकी मिठाई समय पर पूरी नही बिकती है या देरी से बिकती है तो उनमे ख़राब हो जाने या बासी हो जाने का डर सताता रहता है। ऐसे में उन्हें ताजा बनाए रखना या जल्दी से जल्दी बेचने की जरुरत रहती है अन्यथा वह बनी बनाई मिठाई ख़राब चली जाती है या फिर उसे कम दाम में बेचना पड़ता है।

     

    यह भी पढ़िए: आइसक्रीम की दुकान कैसे शुरू करें

     

    तो दोस्तों ये थी Mithai ki dukan शुरू करने से जुड़ी कुछ जानकारी। आप इसकी सभी जानकारी, लाभ और हानि को ध्यान में रखते हुए अपनी मिठाई की दुकान खोलने का निर्णय ले सकते हैं। अगर आपको हमारी दी गई जानकारी अच्छी लगी तो इसे तुरंत अपने दोस्तों के बीच शेयर कर दें साथ ही सोशल मीडिया पर हमें फॉलो कर लें ताकि आपको ऐसी ही जानकारी मिलती रहे।

    हमारी पोस्ट पढ़ते रहने के लिए पास में दिए घंटी के बटन को दबाएं या फिर हमारे Email letter को फ्री में subscribe करें।

    Related articles

    Comments

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Newsletter

    Subscribe to stay updated.

    Popular articles

    Share article